Jee ki Taiyari Kaise Kare | Jee Preparation Tips – हिंदी में

Spread the love

Jee ki Taiyari Kaise Kare, Jee Preparation Tips – हिंदी में, jee main preparation time table, jee preparation books, how to prepare for jee mains 2023, how to prepare for jee mains without coaching.

Jee ki Taiyari Kaise Kare – इंजीनियरिंग के क्षेत्र में करियर बनाने के लिए IIT JEE एक बहुत ही महत्वपूर्ण परीक्षा है। इस परीक्षा के माध्यम से IIT और NIT जैसे बेहतरीन तकनीकी संस्थानों में प्रवेश मिलता है।

भारत में कुल 16 IIT और 31 NIT हैं। IIT का फुल फॉर्म इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी है और NIT का फुल फॉर्म नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी है। यहां प्रवेश लेना गरिमा की बात है।

हर साल लाखों छात्र यह परीक्षा देते हैं। ऐसे में अगर आप इस परीक्षा को पास करना चाहते हैं और किसी टॉप कॉलेज में एडमिशन लेना चाहते हैं। फिर आपको इस टेस्ट के बारे में सटीक जानकारी होनी चाहिए।

IIT JEE Kya Hai (What is IIT Jee in Hindi)

जेईई का फुल फॉर्म ज्वाइंट एंट्रेंस एग्जामिनेशन है। जेईई इंजीनियरिंग पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए राष्ट्रीय स्तर की परीक्षाओं में से एक है।

IIT JEE পরীক্ষা কে দুটো অংশের মাধ্যমে ভাগ করা হয়েছে – JEE MAIN এবং JEE ADVANCE.

IIT की तैयारी कैसे करे (Jee Preparation Tips in Hindi)

अध्ययन का पैटर्न निर्धारित करें – हालांकि आईआईटी जेईई परीक्षा एक कठिन परीक्षा है। लेकिन इस परीक्षा में सफल होना संभव है यदि आप परीक्षण की ठीक से तैयारी करते हैं।

सबसे पहले आपको यह तय करना होगा कि आप कोचिंग करेंगे या सेल्फ स्टडी। यहां यह याद रखना महत्वपूर्ण है कि कोचिंग आपको अपनी परीक्षाओं को समझने और पेपर हल करने में बहुत मदद करेगी, इसलिए कोचिंग एक अच्छा निर्णय हो सकता है। कोचिंग के साथ आपको सेल्फ स्टडी में पूरा ध्यान रखना होगा। तभी आप परीक्षा पास कर सकते हैं।

लेकिन अगर आप कोचिंग नहीं करना चाहते हैं और सेल्फ स्टडी से परीक्षा पास करना चाहते हैं तो वह भी संभव है। इसके लिए आपको परीक्षा के लिए प्रभावी ढंग से तैयारी करने की आवश्यकता है।

सही समय पर शुरू करें तैयारी – IIT JEE परीक्षा का सिलेबस बहुत बड़ा है। परीक्षा समाप्त करने और परीक्षा में सफल होने के लिए परीक्षा की तैयारी जल्दी करना बेहतर है।

तो अगर आपका लक्ष्य इंजीनियरिंग क्षेत्र में प्रवेश करना है। फिर 11वीं कक्षा से परीक्षा की तैयारी शुरू करें।

इसे भी पढ़ें

> IIT Kya Hai | आईआईटी की पूरी जानकारी हिंदी में

> JEE Main और JEE Advance क्या है? – हिंदी में | 12 वीं में जेईई मुख्य योग्यता अंक

> NEET kya hai in Hindi | नीट क्या है पूरी जानकारी हिंदी में | NEET Full Form

सिलेबस को ध्यान से पढ़ें – परीक्षा की तैयारी का पहला चरण पाठ्यक्रम को अच्छी तरह से समझना है। इसके लिए आपको पाठ्यक्रम को ध्यान से पढ़ना चाहिए ताकि आपको महत्वपूर्ण विषयों, अध्यायों की सभी महत्वपूर्ण जानकारी मिल सके। और आप परीक्षा की तैयारी के लिए सही रणनीति तैयार कर सकते हैं।

एक उचित अध्ययन की योजना बनाएं – किसी भी परीक्षा में सफल होने के लिए उचित अध्ययन की योजना बनाना बहुत महत्वपूर्ण है। इसलिए बिना समय बर्बाद किए एक योजना बनाएं। एक महीने के भीतर लक्ष्य निर्धारित करें। आपको इस बात का स्पष्ट अंदाजा होना चाहिए कि आपको महीने के प्रत्येक दिन और प्रत्येक सप्ताह में कितना कोर्स पूरा करना है। और आप गंभीरता से इस लक्ष्य का पीछा करना और उसका पीछा करना जारी रखते हैं।

इस समय संबंधित विषयों के नोट्स प्रतिदिन अपने पास रखें और संबंधित न्यूमेरिकल को अपने साथ हल करते रहें। इसके साथ ही आपको रोजाना एक अभ्यास पेपर हल करने की आदत डालनी होगी।

जिज्ञासु मन रखें – किसी भी थ्योरी को पढ़ते समय उसे जैसा है, वैसा स्वीकार करने के बजाय खुद से सवाल पूछें और उस थ्योरी से जवाब ढूंढे। ऐसा करना बहुत जरूरी है, क्योंकि अगर आप थ्योरी के बाद ही परीक्षा में बैठते हैं। तब वह उस सिद्धांत और वास्तविक जीवन की समस्याओं पर आधारित संख्यात्मक प्रश्नों को हल नहीं कर पाएगा। इसके लिए हर थ्योरी का गहराई से अध्ययन करें। ताकि आप इससे जुड़ा कोई भी पॉइंट मिस ना करें।

एनसीईआरटी की किताब की मदद लें – आपको एनसीईआरटी की किताब की मदद लेने की जरूरत है क्योंकि इस किताब को पढ़कर आप जेईई परीक्षा का आधार बना सकते हैं। एनसीईआरटी की किताब पढ़ने से आपका दिमाग साफ हो जाएगा। इतना ही नहीं परीक्षा के लगभग 60 से 70 प्रतिशत प्रश्नपत्र इन्हीं किताबों पर आधारित होते हैं। इसके लिए सबसे पहले एनसीईआरटी की किताबें पढ़ना शुरू करें।

समय का प्रबंधन करना सीखें – परीक्षा में सफल होने के लिए बिना अभ्यास के समय का सही प्रबंधन करना बहुत जरूरी है। आपको केवल पूरे प्रश्न पत्र को हल करने की आवश्यकता है, लेकिन यदि आप समय का प्रबंधन करना नहीं जानते हैं, तो प्रश्न पत्र को समय पर पूरा करना आसान नहीं है। और पूरी तैयारी के बाद भी परीक्षा के अच्छे परिणाम नहीं मिल पाते हैं। इसलिए पहले दिन से ही टाइम मैनेजमेंट का अभ्यास शुरू कर दें।

यानी प्रत्येक अध्याय को समय पर समाप्त करें, संख्यात्मक समस्याओं को समय पर हल करें और पुनरीक्षण के लिए अधिक सटीक समय निर्धारित करें। ताकि आप टेस्ट में मिले निर्धारित समय में भी बेस्ट परफॉर्मेंस दे सकें।

न्यूमेरिकल को दें ज्यादा समय – परीक्षा में सफल होने के लिए आपको न्यूमेरिकल पर भी पूरा ध्यान देना होगा और हर विषय से संबंधित न्यूमेरिकल का अभ्यास करना होगा। इस परीक्षा में वास्तविक जीवन पर आधारित प्रश्न अधिक पूछे जाते हैं। तो आपको कॉन्सेप्ट के साथ-साथ न्यूमेरिकल्स और सॉल्यूशन को भी समझना होगा। ताकि टेस्ट में आपको न्यूमेरिकल्स की समस्या न हो। बल्कि यह आपके प्रदर्शन को बेहतर बनाने में मदद करता है।

पिछले 5 वर्षों के प्रश्न पत्र हल करें – पिछले साल का प्रश्न पत्र आपको इस परीक्षा के भाग और कठिनाई स्तर के बारे में जानकारी देता है। इसलिए किताब पढ़ते हुए पिछले 5 साल के प्रश्न पत्रों को हल करें। इस बार आप कम समय में प्रश्न पत्र हल करने का प्रयास करें। ताकि आप परीक्षण करने के लिए अभ्यास कर सकें।

एकाधिक मॉक टेस्ट हल करें – जब आप मॉक टेस्ट हल करें तो उनका पुनर्मूल्यांकन करें। उन सभी प्रश्नों से संबंधित अध्याय का विश्लेषण करें जिनसे आपको कठिनाई हो रही है। ताकि आप अपने कमजोर बिंदुओं और मजबूत बिंदुओं को समझ सकें। आप कमजोर बिंदुओं को मजबूत करते हैं और मजबूत बिंदुओं को बनाए रखते हैं।

रिवीजन पर रखें नजर – हर छात्र की पढ़ाई का तरीका अलग होता है। कुछ छात्र बहुत अधिक रिवीजन करते हैं, फिर कई छात्र ऐसे भी होते हैं जो रिवीजन नहीं करते हैं। हालाँकि, परीक्षा में सफल होने के लिए, यह आवश्यक है कि आप प्रत्येक अध्याय की तैयारी के बाद इसका त्वरित पुनरीक्षण करें। और इससे जुड़ी संख्यात्मक और समस्याओं को हल करें। यदि आप ऐसा करते हैं तो आपको रिवीजन के लिए ज्यादा समय नहीं देना पड़ेगा और सभी अध्यायों की अवधारणा और समस्या तुरंत हल हो जाएगी।

उसके बाद जब आप कोर्स पूरा कर लेंगे और रिवीजन करेंगे तो आपको इतना समय नहीं देना पड़ेगा और आपको कोई परेशानी भी नहीं होगी। इसके लिए दो भागों में रिवीजन करें- पहली बार चैप्टर खत्म होने के बाद और दूसरी बार कोर्स खत्म होने के बाद।

पॉजिटिव माइंड सेट रखें – IIT JEE परीक्षा पास करने के लिए आपको कड़ी मेहनत करनी होगी। और अगर आपको बहुत अच्छा प्रदर्शन करना है तो मानसिकता को सकारात्मक रखना बहुत जरूरी है। तभी आप ठीक से तैयारी और प्रदर्शन कर पाएंगे। इसके लिए आप अपना दिमाग सकारात्मक रखें और अपनी मेहनत पर भरोसा रखें।

इसे भी पढ़ें

> Biotechnology Hindi | बायोटेक्नोलॉजी में करियर-पूरी जानकारी

> (Secret Ways) Income Tax Kaise Bachaye | इनकम टैक्स के बारे में जानकारी

> Bitcoin Kya Hai | बिटकॉइन इतना लोकप्रिय क्यों है? – हिंदी में


Spread the love

Leave a Comment

Nick Carter is Being Sued For Allegedly Raping a Teenage Girl “Elden Ring” Involves Highest Awards at The Game Awards Jackie Chan States That “Rush Hour 4” Is Currently In Production Josh Jacobs Uncertain Whether to Return With Hand Damage James Wiseman Thankful To Return NBA With Warriors